Tuesday, September 21, 2021
No menu items!

वकील को घर से उठाने वाले तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड: पंचकूला पुलिस आयुक्त ने विभागीय जांच के भी दिए आदेश, एडवोकेट को रातभर चौकी में अवैध हिरासत में भूखा बैठाया

Must Read


चंडीगढ़12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रतीकात्मक फोटो

पंचकूला सेक्टर-4 में एक वकील को उसके घर से जबरदस्ती उठाकर ले जाने और मारपीट के बाद केस दर्ज करने के मामले में तीन पुलिस कर्मचारियों पर गाज गिर गई। साथ ही पुलिस उपायुक्त पंचकूला ने मामले में विभागीय जांच का आदेश देते हुए जांच अधिकारी की नियुक्त कर दिए।
एडवोकेट दीपक अग्रवाल ने बताया कि उनके घर के बाहर किसी ने स्कूटर खड़ा कर दिया। काफी देर तक स्कूटर खड़ा रहा। शनिवार रात उन्होंने इस मामले की शिकायत के लिए डायल 112 पर सूचना दी। इसके बाद पुलिस कर्मचारी गाड़ी में आए और कार्रवाई करने की बजाय उनके घर में बने ऑफिस के अंदर आ गए। पुलिस कर्मचारियों ने शिकायत सुनने के बजाय उल्टा उन्हें ही धमकाना शुरु कर दिया। पुलिस कर्मचारी उन्हें अपनी गाड़ी में जबरन बैठाकर ले गए और देर रात तक सड़कों पर घूमाते रहे। काफी देर बाद उन्हें सेक्टर 2 की पुलिस चौकी ले गए।
पूरी रात चौकी में रखा पर नहीं दिया खाने-पीने को
पूरी रात पुलिस ने दीपक अग्रवाल को खाने-पीने के लिए कुछ नहीं दिया। सुबह दीपक अग्रवाल का बेटा उनकी बीपी की दवाई, पानी और खाना लेकर आया। मामले की सूचना पर पंचकूला बार एसोसिएशन के प्रधान सतीश कादियान, पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जीबीएसएस ढिल्लों पंचकूला पहुंचे। वकीलों के पुलिस चौकी पहुंचने के बाददीपक अग्रवाल को छोड़ा गया। उनके खिलाफ पुलिस ने केस भी दर्ज कर लिया।
रास्ते और चौकी में वकील को पीटने का आरोप
दीपक का आरोप है कि पुलिस ने उनकी पिटाई भी की। वकीलों ने दीपक अग्रवाल का नागरिक अस्पताल सेक्टर 6 में मेडिकल करवाया। उनके मुंह पर काफी चोट लगी थी। पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ढिल्लों ने बताया कि दीपक अग्रवाल को घर से अवैध तौर पर उठा लिया गया। रास्ते में पीटा और पुलिस चौकी में भी उनकी पिटाई की गई। पुलिस ने अवैध तौर पर कार्रवाई की। शिकायतकर्ता एडवोकेट हैं और उल्टा उन्हें ही उठा लिया गया। उन्होंने पुलिस कर्मचारियों पर केस दर्ज करने की मांग की है। पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ वकीलों की तरफ से शिकायत दी गई, ताकि केस दर्ज किया जा सके।
एसीपी को सौंपी विभागीय जांच
डीसीपी मोहित हांडा ने वकीलों को आश्वासन दिया है कि दर्ज केस को रद्द किया जाएगा और निष्पक्ष जांच की जाएगी। पुलिस उपायुक्त पंचकूला ने काम में लापरवाही और वकील से बदसलूकी करने पर तीन पुलिस कर्मचारियों ईएचसी वीरेंद्र सिंह, कॉन्स्टेबल दिलबाग सिंह और इकबाल खान को निलंबित कर दिया। साथ ही सेक्टर 2 पुलिस चौकी प्रभारी मलकीत सिंह और एएसआई अनिल कुमार के भी मौके पर न पहुंचने के चलते लापरवाही बरतने के मामले में जांच के आदेश दिए हैं। एसीपी राजकुमार को मलकीत सिंह, अनिल कुमार, वीरेंद्र सिंह, दिलबाग सिंह और इकबाल खान के खिलाफ जांच सौंपी गई।

खबरें और भी हैं…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
Latest News

Taliban takeover forcing heroin surge into India? | India News – Times of India

Poppy, from which heroin is designed, is greatly cultivated in AfghanistanAHMEDABAD: International druglords are desperate to pump in...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -
%d bloggers like this: