Friday, October 15, 2021
No menu items!

आतंकियों के छापाखाने रामपुर के घर में पुलिस की रेड: SFJ से जुड़े 3 खालिस्तानी गिरफ्तार रेफरेंडम 2020 को प्रचारित करते 2.84 लाख से अधिक पर्चे व प्रिंटिंग मशीन बरामद

Must Read


लुधियानाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

रामपुर में गुरविंदर सिंह के घर से बरामद की गई सामग्री, जिसमें सप्रे और झंडे शामिल हैं।

पंजाब के लुधियाना जिले के कस्बा खन्ना के तहत आने वाले गांव रामपुर का एक घर आतंकियों का छापाखाना था, जिसमें पुलिस की विशेष टीम ने छापामारी की। छापामारी में एक प्रिंटिंग प्रेस, रिफरेंडम 2020 व खालिस्तान संबंधित सामग्री बरामद हुई है। यह घर गुरविंदर सिंह नामक युवक का है, जो दो अन्य लोगों के साथ मिलकर प्रदेश में आतंकी गतिविधियों अंजाम देने के लिए काम कर रहा था। इस घर को आतंकियों के छापाखाना के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा था। पुलिस ने उसके साथ रोपड़ के मोरिंडा निवासी जगविंदर सिंह और सुखदेव सिंह को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने इनके साथ-साथ अमेरिका में रहने वाले गुरपतवंत सिंह पन्नू, हरप्रीत सिंह, बिक्रमजीत सिंह निवासी गुरसहाय मखू और खन्ना के जगजीत सिंह मंगत के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। पुलिस ने शुक्रवार सुबह रामपुर के इस घर में छापामारी की थी। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप एवं काउंटर इंटेलिजेंस की टीमों ने यहां मजिस्ट्रेट की हाजिरी में चेकिंग भी की थी। पुलिस ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में रेफरेंडम 2020 और खालिस्तान समर्थित 2.84 लाख से अधिक पर्चे बरामद किए है। पुलिस ने एक कैनन प्रिंटर, स्प्रे पंप और दीवारों पर अलगाववादी चित्र लिखने वाली स्प्रे की बोतलें, एक लैपटॉप, तीन मोबाइल फोन और एक होंडा सिटी कार भी बरामद की है।

घर से बरामद हुए खालिस्तान झंडे।

घर से बरामद हुए खालिस्तान झंडे।

युवाओं को किसान आंदोलन से जोड़ने का प्रयास

गुरविंदर ने खन्ना से लेकर सिंघु बॉर्डर दिल्ली तक विभिन्न स्थानों पर पुलों के नीचे और साइनबोर्ड पर सिख रेफरेंडम 2020 की गतिविधियों (अंग्रेजी और पंजाबी में) को बढ़ावा देने के लिए चित्र भी बनाए थे, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग उनके साथ जुड़ सकें। 15 अगस्त की रात उन्होंने पेंट के साथ विभिन्न स्थानों पर प्रो सिख रेफरेंडम 2020 लिखा और भारत विरोधी नारे भी लगाए थे। यही नहीं पन्नू के निर्देश पर गुरविंदर ने खन्ना में अपने गांव रामपुर के सरकारी स्कूल परिसर में खालिस्तानी झंडे लगाए।

आरोपी ने अब तक लगभग 20-25 लोगों को सिख रेफरेंडम 2020 को बढ़ावा देने के लिए वोट करने के अलावा दोराहा, लुधियाना के आसपास के क्षेत्रों में विभिन्न समूहों के लिए पर्चे बांटने और पन्नू के कहने पर पैसे उपलब्ध कराने के लिए रजिस्टर भी किया है। अलगाववादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए आरोपी ने पन्नू से मानव वाहक, हवाला और एमटीएसएस चैनलों के माध्यम से वित्तीय सहायता प्राप्त की थी।

घर से बरामद हुई प्रिंटिंग मशीन।

घर से बरामद हुई प्रिंटिंग मशीन।

यूट्यूब चैनल के माध्यम से आतंकी संगठन से जुड़ा था गुरविंदर

गुरविंदर सिंह, जेएस धालीवाल द्वारा संचालित यूट्यूब चैनल के माध्यम से कट्टरपंथी बना था और धालीवाल ने ही उसे गुरपतवंत पन्नू से मिलवाया। वह अब ‘गैरकानूनी संगठन’ सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) के एक अलगाववादी मॉड्यूल के साथ काम कर रहा था। एसएफजे को जुलाई 2019 में भारत सरकार द्वारा यूए (पी) अधिनियम के तहत पंजाब में अलगाववाद और हिंसक उग्रवाद को बढ़ावा देने के साथ-साथ सिख रेफरेंडम 2020 के तहत प्रतिबंधित कर दिया गया था।

उनकी गतिविधियों का उद्देश्य समुदायों के बीच विभाजन करना और पंजाब राज्य में शांति और सांप्रदायिक सद्भाव को भंग करना था। पुलिस ने एसएएस नगर में एसएसओसी पुलिस स्टेशन में 124ए, 153ए, 153बी और 120बी और यूए(पी) अधिनियम की धारा 17, 18, 20, 40 के तहत एफआईआर दर्ज की है।

खबरें और भी हैं…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
Latest News

US To Accept Mixed Vaccine Doses As It Reopens For Foreign Visitors Next Month

<!-- -->Coronavirus: US will accept mixed-dose Covid vaccines from international travelers.Washington: The US Centers for Disease Control and...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -
%d bloggers like this: